सास ने चुराया ATM, 2 दामाद ने निकाले लगभग 35 लाख रुपये

अभियुक्तों के पास से जब्त हुए रुपये
Advertisement

तीनों अभियुक्तों को पुलिस ने पकड़ा, 27 लाख रुपये हुए जब्त

कोलकाता : कोलकाता पुलिस ने मरे हुए व्यक्ति का ATM कार्ड चुराकर अकाउंट से लगभग 35 लाख रुपये निकालने के आरोप में 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। अभियुक्तों के नाम रंजीत मल्लिक (31), सौमित्र सरकार (45) व रीता रॉय (45) है। अभियुक्तों के पास से पुलिस ने 27 लाख रुपये जब्त किए हैं। कोर्ट में पेशी के बाद अभियुक्तों को 25 अगस्त तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। मामले की तफ्तीश जारी है।

क्या है मामला

कोलकाता के प्रिंस अनवर शाह रोड स्थित ‘सिटी हाई’ निवासी अनुराग अग्रवाल ने 1 जून 2020 को जादवपुर पुलिस स्टेशन/डीडी में शिकायत दर्ज करवाई कि अज्ञात व्यक्ति ने अपराध की मंशा से उसके घर से उसके मृत पिता सत्यनारायण अग्रवाल का ATM Card चोरी की है। यही नहीं अभियुक्त ने विभिन्न ATM सेंटर पर कार्ड का इस्तेमाल कर अकाउंट से 34,90,000 (34 लाख 90 हजार रुपये निकाल लिए हैं। रुपये की निकासी 20 मार्च से 30 मई के बीच हुई है।

शुरू हुई जाँच

मामले के दर्ज होने के बाद डी.डी. के वॉच सेक्शन ने मामले की तफ्तीश शुरू की। इसके तहत ATM से हुई निकासी की सूची तैयार की गयी और जिन ATM केन्द्रों से रुपये निकाले गए थे उनके सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। सीसीटीवी फुटेज में पता चला कि 2 लोगों ने मास्क व टोपी पहनकर चोरी किए गए ATM से 34.90 लाख रुपये निकाले हैं। रुपयों की निकासी के लिए 20 मार्च से 30 मई तक नदिया जिले के करीमपुर, कृष्णानगर व रानाघाट और हुगली जिले के गुप्तिपाड़ा स्थित ATM सेंटर का इस्तेमाल किया गया था।

पुलिस के हत्थे चढ़े 2 अभियुक्त, रिश्ते में निकले साढ़ू

सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने स्थानीय सूत्रों को सक्रिय किया और सूचना मिलते ही 13 अगस्त को नदिया निवासी रंजीत और हुगली निवासी सौमित्र का गिरफ्तार कर लिया। इन दोनों को इनके घर से ही गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में पुलिस को पता चला कि ये दोनों रिश्ते में साढ़ू हैं। थोड़ी और पूछताछ के बाद अभियुक्तों तक ATM पहुँचने का कनेक्शन भी पुलिस के सामने आ गया।

गिरफ्तार अभियुक्त

सास ने ATM चुरा कर किया था दामादों के हवाले

गिरफ्तार दोनों अभियुक्तों ने बताया कि उनकी सास रीता रॉय ने उन्हें मृत सत्यनारायण अग्रवाल का ATM चुरा कर दिया था। दरअसल रीता, पीड़ित के घर नौकरानी का काम करती है। रीता भी नदिया जिले की रहने वाली है। पुलिस ने मामले से सीधा कनेक्शन स्थापित होने के बाद 13 अगस्त को ही रीता को भी कोलकाता से गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्तों से पूछताछ के बाद तीनों के घर की तलाशी ली गई, जिसके बाद पुलिस ने रंजीत के घर से 16 लाख रुपये नकद, सौमित्र के घर से 2 लाख रुपये नकद और ATM कार्ड और रीता के घर से 9 लाख नकद अर्थात कुल 27 लाख रुपये जब्त किए।

Advertisement
     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here