Mulayam Singh Yadav : पंचतत्व में विलीन हुए मुलायम सिंह यादव

Mulayam Singh Yadav

कोलकाता: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) व समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव पंचतत्व में विलीन हो गए। उनके बेटे और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उन्हें मुखाग्नि दी। इटावा के सैफई के मेला ग्राउंड में उनका अंतिम संस्कार किया गया। मुलायम सिंह यादव की अंतिम यात्रा में लोगों का जनसैलाब उमड़ पड़ा।

मुलायम सिंह यादव का सोमवार को गुरुग्राम के निजी मेदांता अस्पताल में 82 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उनके पार्थिव शरीर को सोमवार शाम सैफई लाया गया और उनकी ‘कोठी’ में रखा गया, जहां हजारों लोग ‘नेता जी’ को अंतिम सम्मान देने के लिए पहुंचे। वे अपने समर्थकों और कार्यकर्ताओं के बीच ‘नेताजी’ के नाम से मशहूर थे।

साइकिल, मोटरसाइकिल, कार, एसयूवी और परिवहन के अन्य साधनों में सवार सैकड़ों पार्टी कार्यकर्ता और लोग आस-पास के इलाकों से मंगलवार सुबह अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने के लिए सैफई पहुंचे। वहां हर क्षेत्र से लोग पहुंचे थे और कई लोग अपनी-अपनी छतों पर थे। कुछ लोग पेड़ पर चढ़ गए थे तो कुछ अपने प्रिय नेता को ले जा रहे वाहन को छूने का प्रयास कर रहे थे।

मंगलवार की सुबह बूंदाबांदी होने के कारण मुलायम सिंह यादव की कोठी के बाहर उनके अंतिम दर्शन के लिए सैकड़ों लोगों की कतार लग गई।

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना समेत राज्य सरकार के कई मंत्री श्रद्धांजलि देने सैफई पहुंचे। भीड़ उमड़ जाने पर शिवपाल सिंह यादव ने लोगों से शांति बनाए रखने और अपनी जगह खड़ा रहने की अपील की। सभी लोग किसी तरह नेता जी का अंतिम दर्शन करना चाहते थे।

तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता रीता बहुगुणा जोशी उन नेताओं में शामिल हैं, जो मुलायम सिंह यादव को अंतिम विदाई देने के लिए यहां सैफई मेला ग्राउंड पंडाल में जल्दी पहुंचे। मुलायम सिंह यादव की अर्थी के पास के पास खड़े सपा नेता धर्मेंद्र यादव अपने आंसू नहीं रोक पाए। आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री नायडू ने यादव के निधन को ‘उत्तर प्रदेश के लिए नुकसान’ करार दिया।

वरिष्ठ सपा नेता आजम खान ने भी पूर्व मुख्यमंत्री को अंतिम श्रद्धांजलि दी। इसके पूर्व मुलायम सिंह यादव का पार्थिव शरीर मंगलवार की सुबह मुलायम सिंह यादव (नेता जी) के पैतृक आवास से मेला ग्राउंड के लिए एक रथ पर लेकर परिवार के लोग रवाना हुए। रथ पर मुलायम के पुत्र और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव समेत परिवार के सदस्य सवार थे। रथ मेला ग्राउंड में पहुंचा तो वहां का माहौल गमगीन हो गया।

मेला ग्राउंड में यादव को अंतिम विदाई और श्रद्धांजलि देने के लिए एक मंच बनाया गया है। इस मंच पर अखिलेश यादव के अलावा उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव, प्रोफेसर राम गोपाल यादव समेत परिवार के कई सदस्य नजर आए। पूर्व सांसद डिंपल यादव समेत परिवार की महिलाएं भी मौजूद थीं। ओमप्रकाश सिंह समेत सपा के कई नेताओं ने भी यादव के अंतिम दर्शन कर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

Advertisement
     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here