Lockdown में बेरोजगारी के कारण बेेटे ने की आत्महत्या, सदमे में पिता ने भी लगायी फाँसी

नदिया : लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान नौकरी जाने से परेशान एक बेटे ने कथित तौर पर जहर खाकर आत्महत्या कर ली। बेटे की मौत की खबर सुनते ही पिता को भी ऐसा सदमा लगा कि उन्होंने भी गले में फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उक्त घटना नदिया के नवद्वीप थाना अन्तर्गत माजदिया बेलतला इलाके की बतायी गयी है। मृतक बेटे का नाम दीपांकर मालाकार (30) एवं पिता का नाम दिलीप मालाकार (60) बताया गया है। स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दीपांकर एक होटल में काम करता था। घर में दीपांकर ही अकेला कमाने वाला था। लेकिन कोरोना काल के दौरान हुए लॉकडाउन के कारण दीपांकर बेरोजगार हो गया था। इसके कारण घर पर आर्थिक दबाव बढ़ गया था। सूत्रों की मानें तो माता-पिता के दवाईयों का खर्च तक वहन करना दीपांकर के लिए मुश्किल हो रहा था।

आरोप है कि इसी कारण मानसिक अवसाद से ग्रस्त होकर उसने 3 दिन पहले जहर खा लिया था। गंभीर हालत में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहाँ गुरुवार रात उसकी मौत हो गयी। वहीं बेटे की मौत की खबर सुनते ही पिता पर तो जैसे दुखों का पहाड़ टूट गया। स्थानीय सूत्रों का कहना है कि दिलीप मालाकार अपने बेटे की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाये और गले में फाँसी लगाकर उन्होंने भी अपनी जान दे दी। इस घटना के बाद से इलाके में शोक का माहौल है।

Advertisement
     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here