कोलकाता प्रादेशिक माहेश्वरी सभा का वर्चुअल परिचर्चा सत्र आयोजित

Advertisement

कोलकाता : कोलकाता प्रादेशिक माहेश्वरी सभा के आतिथ्य एवं पूर्वांचल संभाग के सभी प्रादेशिक सभाओं- पश्चिम बंगाल, बिहार/झारखंड, ऊड़ीसा, पूर्वोत्तर एवं नेपाल चेप्टर, महिला एवं युवा संगठन के संयुक्त तत्वावधान में माहेश्वरी समाज के प्रथम एवं एकमात्र माउंट एवरेस्ट आरोही वेंकटेश माहेश्वरी के साथ एक परिचर्चा का आयोजन जूम के माध्यम से किया गया। पूर्वांचल उपाध्यक्ष कैलाश काबरा की अध्यक्षता में यह परिचर्चा सत्र संपन्न हुआ। परिचर्चा में महासभा के अध्यक्ष श्याम सोनी, महामंत्री संदीप काबरा, महिला एवं युवा अध्यक्ष आशा माहेश्वरी व राजकुमार काल्या समेत अन्य राष्ट्रीय पदाधिकारियों की विशेष रूप से उपस्थिति रही। भगवान महेश की वन्दना के साथ कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ। सर्वप्रथम संयोजक भंवर राठी ने परिचर्चा की भूमिका रखी तत्पश्चात महासभाध्यक्ष, महामंत्री, पूर्वांचल उपाध्यक्ष सहित आतिथ्य सभा के अध्यक्ष ने अपने अपने विचार एवं सुझाव रखे। वेंकटेश माहेश्वरी का परिचय राजेश नागोरी एवं प्रशस्ति पत्र का वाचन कार्यसमिति सदस्य गोपाल दम्माणी द्वारा किया गया जबकि संचालन का कार्य प्रदेश मंत्री नन्द कुमार लढ्ढा द्वारा किया गया।

कार्यक्रम के दूसरे चरण में वेंकटेश जी माहेश्वरी ने लगभग एक घंटे में विडियो एवं अन्य आधुनिक तकनीक के माध्यम से माउंट एवरेस्ट की चाई के पूर्व की विस्तृत तैयारियों से लेकर एवरेस्ट फतह करने तक की संपूर्ण यात्रा की चुनौतियों एवं जोखिमों का दृष्टांत के साथ पूर्ण विवरण प्रदान किया। साथ ही जीवन में आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए किस प्रकार अपने आप को तैयार करना चाहिए इसके गुर भी साझा किए। धन्यवाद ज्ञापन की रस्म संयोजक गणेश बागड़ी ने अदा की। कार्यक्रम को सफल बनाने में सभा,महिला एवं युवा अध्यक्ष विनोद जाजू, निर्मला मल्ल केशव डागा सहित सम्पत मानधन्या का सक्रिय सहयोग रहा ।

Advertisement
     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here