West Bengal : बड़े भाई की हत्या कर घर के पीछे गाड़ा शव, 6 साल बाद 2 भाईयों ने किया सरेंडर

Advertisement

उत्तर 24 परगना के श्यामनगर स्थिति आदर्शपल्ली की घटना

घर के पीछे से नर कंकाल बरामद!

उत्तर 24 परगना : 2 छोटे भाईयों ने कथित तौर पर पारिवारिक विवाद के बाद अपने बड़े भाई की साल 2014 में हत्या कर दी थी और उसका शव घर के पीछे जमीन खोदकर गाड़ दिया था। आस-पड़ोस के लोगों को इसकी भनक तक नहीं लगी थी। हत्या करने वाले भाईयों ने हत्या के अगले ही दिन घर में ताला लगाकर रवाना हो गए। स्थानीय लोगों को पता ही नहीं चला कि घर में ताला लागकर सब कहाँ चले गए। गत 3 महीने पहले हत्या करने वाले भाईयों में से एक भाई को इलाके में देखा गया था। पूछने पर उसने बताया कि उसके बड़े और छोटे भाई दूसरे राज्य में काम कर रहे हैं। हालांकि दोनों छोटे भाई 15 दिन पहले साथ घर लौटे और कथित तौर पर शुक्रवार को जगदल थाने में जाकर अपने बड़े भाई की हत्या का जुर्म स्वीकार कर लिया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने हत्यारे भाईयों की निशानदेही पर घर के पीछे से नर कंकाल भी बरामद किया है। पुलिस ने दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। मामले पर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

क्या है मामला

प्राप्त जानकारी के अनुसार साल 2014 में शील परिवार के बीच पारिवारिक संपत्ति को लेकर विवाद हुआ था। वह दिसंबर का महीना था। बड़े भाई निपू शील और मंझले भाई अपू शील के बीच में विवाद हुआ था। दोनों में हाथापाई हुई थी, जिसमें दोनों को चोट आयी थी। घटनास्थल पर पहुँचे लोगों ने दोनों भाई को अस्पताल पहुँचाया था। चिकित्सा के बाद दोनों घर लौटे थे। हालांकि दूसरे दिन स्थानीय लोगों ने देखा कि दोनों के घर पर ताला लगा है। उसके बाद से तीनों भाईयों निपू शील, अपू शील और तपू शील का कोई अता-पता नहीं था। कथित तौर पर भाई की हत्या के बाद से अपू और तपू मानसिक रूप से परेशान थे। उन्हें अपने किये पर पछतावा हो रहा था और अंततः 6 साल बाद उन्होंने पुलिस के सामने आपना गुनाह कबूल कर लिया।

Advertisement
     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here