श्री श्याम मंदिर घुसुड़ीधाम के नन्दोत्सव पर जमकर हुई भजनों की बौछार


भादव अमावश्या के उपलक्ष्य में 4 दिवसीय मंगलपाठ का शुभारम्भ

हावड़ा : कोरोना के कारण पूर्वी भारत में श्याम भक्तों के महातीर्थ ‘श्री श्याम मंदिर घुसुड़ीधाम’ में इस बार नन्दोत्सव का आयोजन भी वर्चुअल ही करना पड़ा । हालांकि इस अवसर पर आज बारस (द्वादशी) होने से भक्तों का उल्लास दोगुना हो गया। मंदिर के प्रबंध न्यासी बिनोद टिबड़ेवाल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि आज सुबह से ही भक्तों ने मंदिर पहुंच कर अपने आराध्य बाबा श्याम की मनोहारी झांकी के दर्शन किये और यह क्रम पूरे दिन चलता रहा। हालांकि इस दौरान वर्तमान परिप्रेक्ष्य में जारी सभी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन किया गया और भक्तों ने मास्क लगााकर मंदिर में प्रवेश करते हुए स्वयं को सैनेटाइज करने पश्‍चात सोशल डिस्टेंशिंग का पालन करते हुए बाबा श्याम को शीश नवाया। इस बीच, कृष्ण जन्माष्टमी के बाद वाले रविवार को प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले नन्दोत्सव पर मंदिर में तो बाबा श्याम का विशेष श्रृंगार किया गया लेकिन इस उपलक्ष्य में मंदिर के फेसबुक लाइव पर सायं 5 बजे से शुरु हुए भजनों के कार्यक्रम में सुनीता गुप्ता, परितोष-मिनी (धनबाद), उमा बागड़ी, अर्पणा अग्रवाल (पूणे), दलजीत-गुरप्रीत आदि लोकप्रिय भजन प्रवाहकों ने भजनों के जरिए नन्दोत्सव के आनन्द में श्रद्धालुओं को भाव-विभोर कर दिया। मंदिर के मुख्य भजन गायक मनोज बालासिया ने इसका शुभारम्भ व पूरे कार्यक्रम का संचालन किया।

मंदिर के सोशल मिडिया प्रभारी देवेन्द्र कासुका ने मंदिर से जुड़े भक्तों के लिए आज के श्रृंगार व आरती का लाइव प्रबंध फेसबुक के जरिए किया। मंदिर के प्रचार प्रभारी सुरेश कुमार भुवालका ने बताया कि इस बार भादव अमावश्या के उपलक्ष्य में मंदिर के फेसबुक लाइव पर आज से लगातार चार दिनों तक दादी जी के मंगल पाठ का आयोजन शुरु हुआ। आज पहले दिन डोली अग्रवाल व सीमा सराफ ने दादीजी की महिमा पावन गुणगान किया। यह आयोजन 19 अगस्त तक प्रतिदिन दोपहर 1 बजे से लगभग 5 बजे तक घुसुड़ीधाम मंदिर की अधिकृत फेसबुक लाइव पर होगा। जिसमें 17 को श्‍वेता रुनझुन, 18 को नीतू शर्मा व 19 को सुनीता गुप्ता मंगल पाठ सुनायेंगी। इस बार विशेष परिस्थितियों के कारण मंदिर होने वाला भादव अमावश्या महोत्सव स्थगित कर दिया गया है। केवल भक्तों के लिए दर्शन की व्यवस्था रहेगी।

Advertisement
     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here