Russia Covid-19 : राष्ट्रपति पुतिन का कोरोना वैक्सीन तैयार करने का दावा, बेटी को लगवाया टीका

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन

रूस/नई दिल्ली : कोरोना (Corona) को हराने के लिए कई देशों में वैक्सीन बनाने की तैयारी चल रही है, इसी बीच रूस (Russia) के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने दावा किया है कि रूस द्वारा कोरोना वैक्सीन तैयार कर ली गयी है। सोमवार की सुबह इसकी घोषणा करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना की वैक्सीन विकसित करने वाला रूस पहला देश बन गया है। सरकारी मंत्रियों के साथ एक टीवी वीडियो कॉन्फ्रेंस कॉल के दौरान राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि आज दुनिया में पहली बार कोरोना वायरस के खिलाफ एक टीका पंजीकृत किया गया है। ये टीका आवश्यक परीक्षणों से गुजरा है। उन्होंने तो यह भी कहा कि उनकी दो बेटियों में से एक को वैक्सीन का टीका लगवाया गया है और वह अच्छा महसूस कर रही है। रूसी अधिकारियों ने कहा है कि चिकित्सा कर्मचारी, शिक्षक और अन्य जोखिम समूह को सबसे पहले टीका लगाए जाएंगे।

एक नजर वैक्सीन के ट्रायल रिजल्ट पर

जानकारी के मुताबिक वैक्सीन के चिकित्सा परीक्षणों की शुरुआत 18 जून को हुई और इसमें 38 लोग शामिल हुए। उन सभी में प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो गई है। पहले समूह को 15 जुलाई को छुट्टी दी गई, जबकि दूसरे को 20 जुलाई को छुट्टी दी गई।

अक्टूबर से मिलने लगेगी वैक्सीन

रूस के स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराशको ने कहा कि ‘जोखिम समूहों’ के सदस्यों, जैसे चिकित्सीय पेशेवरों को इस महीने टीका लगाया जा सकता है। वहीं, रूस के उप प्रधानमंत्री तात्याना गोलिकोवा ने सितंबर में कोरोना वायरस के ‘औद्योगिक उत्पादन’ शुरू करने का वादा किया है और मुराशको ने कहा है कि सामूहिक स्तर पर टीकाकरण अक्टूबर में शुरू होगा। रूस के इस दावे ने दुनिया को एक बहुत बड़ी उम्मीद दी है। अगर यह दावा सच होता है तो फिर कोरोना से लड़ना आसान हो सकता है।

यह भी पढ़ें : Corona : थोड़ी धिमी हुई संक्रमण की रफ्तार, 24 घंटे में 53,601 नये मामलों की पुष्टि

Advertisement
     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here