TATA SAMPANN का नया मंत्र #SpiceUpYourHealth

कोलकाता : भारत के हर रसोईघर में जो सब से ज़्यादा आसानी से उपलब्ध होता है वो है- मसालेदान या मसाले का डिब्बा। लेकिन अभी तक अधिकाँश भारतीयों ने मसालों के कई गुण और फ़ायदे पहचाने नहीं हैं।  और इसीलिए ज़्यादातर लोगों को मसालों में मौजूद Natural Oils के फायदों के बारे में जानकारी देने के लिए  ‘टाटा सम्पन्न’ ने ऑनलाइन सेशन- #SpiceUpYourHealth का आयोजन किया। टाटा सम्पन्न मसालों कि रेसिपी बनाने वाले तथा ब्रांड एम्बेसडर- प्रसिद्ध शेफ संजीव कपूर, सेलिब्रिटी माँ और अदाकार शहीद कपूर की पत्नी- मीरा कपूर, न्यूट्रिशियनिस्ट कविता देवगन और सलाहकार (आयुर्वेद), AYUSH मंत्रालय- डॉ. मनोज नेसरी, की बात-चीत से ये निष्कर्ष निकला कि मसाले आपकी सेहत को अच्छा बनाये रखने में किस तरह मददगार हो सकते हैं।

संपन्न इम्युनिटी ड्रिंक तैयार करतीं मीरा कपूर

आपकी  रसोई तक अच्छे-से-अच्छा मसाले पहुँचाने के वादे पर खरा उतरने के लिए टाटा सम्पन्न वचनबद्ध है। इसीलिए मसालों में मौजूद Natural Oils के साथ किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ नहीं की जाती है  ताकि आप के भोजन में स्वस्थ्य, पोषण और स्वाद का अनुपात सही-सही बना रहे।

शेफ संजीव कपूर ने कहा, ”टाटा सम्पन्न, मसालों में स्थित Natural oils के मामले में कोई हस्तक्षेप नहीं करता, यही कारण है कि यह मसाले सम्पूर्ण गुणवत्ता से भरे होते हैं। यही वजह है कि यह ब्रांड और मैं स्वयं भी सर्वगुण सम्पन्न मसालों में विश्वास करते हैं, जो कि सर्वगुण सम्पन्न अच्छाइयां प्रदान करते हैं। निजी तौर पर मैं खुद भी स्वास्थ्यकर मसालों से भोजन पकाना पसंद करता हूँ, जो कि स्वाद से भी आगे भोजन को और अधिक स्वास्थ्य हितकारी बनाते हैं।”

ग्राहकों को तक यह जानकारी पहुंचाने के लिए कि मसाले किस तरह इम्युनिटी को अच्छा बनाने का काम करते हैं और मसालों से जुड़े अन्य आयुर्वेदिक व मेडिसिनल लाभ क्या हैं, शेफ संजीव कपूर, मीरा कपूर, कविता देवगन तथा डॉ. मनोज नेसारी ने ऑनलाइन एक बड़ी ही दिलचस्प मास्टरक्लास को होस्ट किया। इस क्लास में उनके साथ विभिन्न ब्लॉगर्स, मीडिया तथा कंज्यूमर्स भी शामिल थे। इसके दौरान उक्त विशेषज्ञों ने महत्वपूर्ण जानकारी का खजाना और अनुभव आधारित विचार शेयर किए। बातचीत पर आधारित इस सेशन में रसोईघरों में रखे उस छोटे से मसालदान में मौजूद स्वास्थ्य से जुड़े अनेक लाभ के बारे में जानकर दर्शक हैरान रह गए।

न्यूट्रिशयनिस्ट कविता देवगन ने कहा-‘अभी ये सबसे अच्छा समय है इस बात के लिए कि आप अपने मसालों के डब्बे पर खास ध्यान दें और उन कुछ खास प्राचीन रेसिपीज़ को फिर से जानें जो इम्युनिटी बढ़ाने में मददगार के तौर पर जानी जाती रही हैं।’ उन्होंने आगे कहा-‘उदाहरण के लिए, हल्दी में पाया जाने वाला तत्व करक्यूमिन एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण रखता है और इम्युनिटी क्षमता को बढाने में सहायक होता है। इसी तरह काली मिर्च में भी एंटीऑक्सीडेंट्स वाला प्रभाव होता है जो इम्युनिटी को बेहतर बनाता है। साथ ही मसालों में मौजूद प्राकृतिक तेल तथा विभिन्न एंटीऑक्सीडेंट्स इन मसालों को स्वास्थ्य के लिहाज से और भी अच्छा बना देते हैं।’

मीरा कपूर ने कहा-‘ मैं हमेशा से हेल्थ कॉन्शस (स्वास्थ्य के प्रति सजग) रही हूं, लेकिन वर्तमान माहमारी के दौर में स्वास्थ्य और इम्युनिटी पहले से कहीं अधिक महत्वपूर्ण हो गए हैं। हल्दी मेरे लिए इम्युनिटी को बूस्ट करने के लिए एक सबसे सहज और सुलभ  मसाला है। यह एक अनेक गुणों से युक्त इंग्रीडिएंट है और सदियों से इसे इसके इम्युनिटी बढाने वाले गुणों के लिए जाना जाता है। यह किसी भी काढ़े के साथ अच्छे से मिल जाता है। मैं इस बात को सुनिश्चित करती हूं कि मेरा पूरा परिवार भी रोज इम्युनिटी बढाने वाला हल्दी का काढ़ा पीएं। मुझे विश्वास है कि यह अंदर से आपके स्वास्थ्य को अच्छा रखता है। मेरा अब पूरा प्रयास होता है कि प्राकृतिक तेलों से युक्त मसालों को ही भोजन में शामिल करूँ, क्योंकि प्राकृतिक तेल ही मसालों का वह खास गुण हैं जो मसालों में स्वास्थ्य लाभ देने वाले तत्व और पौष्टिकता को बढ़ाते हैं।”

डॉ. मनोज नेसारी, सलाहकार (आयुर्वेद), AYUSH मंत्रालय, ने भी मसालों के आयुर्वेदिक महत्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा-‘अदरक, हल्दी, दालचीनी आदि जैसे औषधीय पौधों का मसालों के रूप में प्रयोग, प्रकृति द्वारा मनुष्य को दिया गया अनुपम उपहार है। ये भोजन के पाचन में मदद करने, हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्युनिटी) को बढ़ाने, सेल्युलर मेटाबॉलिज्म को सही रखने आदि में मदद करते हैं। आयुष मंत्रालय तथा भारत सरकार के अन्य मंत्रालयों के अंतर्गत आने वाले संस्थानों ने इन मसालों के गहन शोध के पश्चात इनके नैदानिक (क्लिनिकल) प्रमाण पाए हैं साथ ही इनके क्रिया करने के तरीकों की भी पहचान की है। इनमे से कई में वायरस की विभिन्न प्रजातियों के विरुद्ध एंटीवायरल क्षमता भी होती है।’ उन्होंने कहा-‘मसालों का सही मात्रा में उपयोग हमें न केवल महामारी के इस दौर में स्वस्थ रखता है, बल्कि हर मौसम में हमें फिट रहने में मदद करता है।’

Advertisement
     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here