West Bengal Corona Update : सुधर रही कोलकाता की स्थिति, बिगड़ रहा अन्य जिलों का हाल

Advertisement

कोमल सांतोरिया

कोलकाता : कोरोना वायरस (Corona Virus), यह नाम सदियों तक लोगों के दिलों में एक खौफ बनकर रहेगा। कोरोना से निजात पाने का इंतजार पूरा विश्व कर रहा है। सबके जहन में एक ही बात चल रही है कि बस अब बहुत हो गया। शारीरिक, मानसिक और आर्थिक, तीनों मामले में ही कोरोना ने पूरे विश्व को झटका दिया है। भारत में तो हर रोज तेज गति से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। कोरोना संक्रमण के मामले में भारत तीसरे स्थान पर है। वहीं बात अगर पश्चिम बंगाल (West Bengal) के बारे में की जाये तो यहाँ कोरोना संक्रमण 1 लाख 41 हजार का आँकड़ा पार कर चुका है। हर रोज यहाँ भी मामलों में इजाफा हो रहा है।

हालांकि इन सबमें सिर्फ एक बात जो राहत देने वाली नजर आ रही है वह है बंगाल की राजधानी कोलकाता (Kolkata) में कोरोना के मामलों में आ रही कमी। जी हाँ, अगर पिछले कुछ दिनों का आँकड़ा देखा जाये तो पता चलेगा कि पहले की तुलना में कोलकाता में कोरोना के मामलों में थोड़ी कमी आयी है। इसके साथ ही लोगों के स्वस्थ होने की दर भी पहले से काफी बेहतर हो रही है। हालांकि जैसे हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं ठीक वैसे ही उक्त बात का भी एक और हिस्सा है। जैसे कोलकाता में घट रहे मामले राहत देने वाले हैं तो ठीक उसी तरह बंगाल के अन्य जिलों में बढ़ रहा कोरोना संक्रमण चिंता में डाल रहा है।

जी हाँ, अब संक्रमण के मामले में हर रोज उत्तर 24 परगना, कोलकाता को पीछे छोड़ रहा है। तकरीबन हर दिन यहाँ 600 से ज्यादा कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं। 24 अगस्त को सरकार द्वारा जारी किये कोरोना के आँकड़ों के मुताबिक कोलकाता में कोरोना के 465 मामले सामने आये थे जबकि उत्तर 24 परगना में कोरोना के 700 नये मामले सामने आये थे। 23 अगस्त को कोलकाता में 563 एवं उत्तर 24 परगना में 696, 22 अगस्त को कोलकाता में 516 एवं उत्तर 24 परगना में 547 एवं 21अगस्त को कोलकाता में 462 एवं उत्तर 24 परगना में 764 मामले सामने आये थे। इससे साफ-साफ जाहिर होता है कि महानगर में भले ही स्थिति थोड़ी सुधरी है लेकिन उत्तर 24 परगना की हालत खराब है। सोमवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने भी वर्चुअल प्रशासनिक बैठक के दौरान उत्तर 24 परगना की स्थिति को लेकर चिंता जाहिर की थी। अब तक कोलकाता में कोरोना के कुल 36 हजार 722 एवं उत्तर 24 परगना में 30 हजार 15 मामले सामने आ चुके हैं लेकिन जिस तरह आँकड़ें सामने आ रहे हैं उससे तो यही लग रहा है कि जल्द उत्तर 24 परगना कोलकाता को पीछे छोड़ देगा।

हावड़ा की सुधरी स्थिति तो हुगली की हुई खराब

एक वक्त था जब कोरोना के मामले में कोलकाता प्रथम एवं हावड़ा दूसरे स्थान पर रहता था। यह कहना गलत नहीं होगा कि कोरोना के मद्देनजर हावड़ा की स्थिति काफी सुधरी है। अब तो हावड़ा से ज्यादा कोरोना के मामले हुगली में सामने आ रहे हैं। अगर सिर्फ पिछले 4 दिनों का आँकड़ा ही लिया जाये तो पता चलता है कि 24 अगस्त को हावड़ा में 104 एवं हुगली में 108 कोरोना के मामले सामने आये थे। इसी तरह 23, 22 एवं 21 अगस्त को भी हावड़ा व हुगली में क्रमश : 159 व 180, 153 व 185 एवं 163 व 333 मामले सामने आये थे। जिलों में बढ़ रहा कोरोना का मामला प्रशासन के लिए चिंता खड़ी करता नजर आ रहा है।

यह भी पढ़ें : Corona : भारत में स्वस्थ लोगों का आँकड़ा 24 लाख के पार

Advertisement
     

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here