Corona : होम आईसोलेशन में रह रहे मरीजों पर नजर रखेगा KMC

Advertisement

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में कोरोना के मामलों में तेजी जारी है और कोलकाता अभी भी जिलों में ज्यादा संक्रमितों की संख्या के मामले में प्रथम स्थान पर है। कोरोना संक्रमित बहुत सारे मरीजों को राज्य स्वास्थ्य विभाग की ओर से होम आईसोलेशन में रहने की सलाह दी जा रही है। आरोप है कि होम आईसोलेशन में रह रहे मरीजों के बायोमेडिकल सामानों को सही जगह पर फेंका नहीं जा रहा है। ऐसे में संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है। प्राप्त जानकारी के अनुसार संक्रमित मरीज द्वारा इस्तेमाल किए गए ग्लब्स, मास्क आदि बायोमेडिकल सामानों को फेंकने के लिए कोलकाता नगर निगम (KMC) के ओर से एक पीला पैकेट दिया जाता है। इसी पीले पैकेट में उक्त इस्तेमाल किए गए सामानों को रखकर उचित स्थान पर फेंकना होता है। आरोप है कि बहुत से मरीजों के परिजन इसमें कोताही बरत रहे हैं, जिससे मरीज के पड़ोस के साथ ही सफाई कर्मियों के संक्रमित होने का खतरा भी बढ़ रहा है। ऐसे में होम आईसोलेशन में रह रहे मरीजों के घर पर KMC नजर रखेगा कि मरीज के घर से पीले पैकेट में इस्तेमाल किए गए सामान बायोमेडिकल इकट्ठा करने वाली गाड़ी में फेंका जाता है या नहीं।

इस संबंध में केएमसी के स्वास्थ्य विभाग के प्रशासक अतीन घोष ने कहा कि होम आईसोलेशन में रहते समय कोरोना संक्रमित मरीज को आईसीएमआर के निर्देशों को मानते हुए कचरा पीले पैकेट में ही फेंकना होगा। यदि ऐसा नहीं होता है तो अतिमारी कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। सड़कों पर अभी भी खुले में ही मास्क, ग्लब्स आदि पड़े मिल रहे हैं। उसे केएमसी के सफाई कर्मी काफी सतर्कता के साथ उठा ले रहे हैं। केएमसी लगातार प्रयास कर रही है ताकि संक्रमण न फैले।

Advertisement
     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here